coronavirus mask

कौन सा मास्क कोरोना वायरस के लिए जरूरी है और यह वायरस से हमें कैसे बचाता है? – Face Mask

कोरोनावायरस से बचाव के लिए कौन सा मास्क (Face Mask) खरीदें? यह सवाल ज्यादातर लोगों के दिमाग  में चलता है। Heart Care Foundation of India के प्रेसिडेंट डॉ. केके अग्रवाल के मुताबिक, वायरस से बचाव के लिए N-95 मास्क ही सबसे बेहतर है। मास्क (Face Mask) जब भी खरीदें तो ध्यान रखें इसकी रेटिंग N-95 ही हो। दूसरी सबसे जरुरी बात इसका आपके चेहरे पर फिट होना जरूरी है, अगर ऐसा नहीं है तो इसका कोई फायदा नहीं होता। Face Mask के कुछ और प्रकार भी हैं जो वायरस से बचाव करते हैं, आइए जानते हैं कि कौन का मास्क कितनी सुरक्षा देता है।

N-95 मास्क – (Face Mask)

यह कोरोनावायरस जैसे संक्रमण से बचाव के लिए सबसे बेहतर मास्क है। यह आसानी से मुंह और नाक पर फिट हो जाता है और बारीक कणों को भी नाक या मुंह में जाने से रोकता है। यह हवा में मौजूद 95 प्रतिशत कणों को रोकने में सक्षम है इसलिए इसका नाम N-95 पड़ा है। कोरोनावायरस के कण डायमीटर में 0.12 माइक्रॉन जितने होते हैं, जिसकी वजह से यह काफी हद तक मदद करता है। यह बैक्टीरिया, धूल और Pollen Grains से 100 % बचाता है।

सर्जिकल मास्क – (Face Mask)

N-95 मास्क उपलब्ध न होने पर यह Best option है। यह वायरस से 95% बचाव करता है। वहीं बैक्टीरिया, धूल और Pollen Grains से 80 % तक सुरक्षा देता है। ये ढीले फिटिंग वाले होते हैं, इसलिए जब भी इसे लगाएं अच्छे से नाक और मुंह को कवर करें।

FFP मास्क – (Face Mask)

यह मास्क तीन कैटेगरी में उपलब्ध है। FFP1, FFP2 और FFP3, इसमें FFP3 सबसे बेहतर है। यह Micro Particles से बचाता है। FFP मास्क वायरस से 95 % और बैक्टीरिया, धूल, Pollen Grains से 80% बचाव करता है।

एक्टिवेट कार्बन मास्क

इसका इस्तेमाल आमतौर पर गंध रोकने के लिए किया जाता है। यह वायरस से बचाव करने में Insufficient है क्योंकि यह सिर्फ 10 % तक ही सुरक्षा देता है। वहीं, बैक्टीरिया, धूल और Pollen Grains को रोकने में 50 % ही बचाव करता है।

यह भी पढ़ेलॉकडाउन के समय का इस्तेमाल कैसे करे : 35+ तरीके

कपड़े वाला मास्क

यह वायरस से बचाव नहीं करता और ना ही Specialist इसे लगाने की सलाह देते हैं। आमतौर पर लोग इसे घर पर ही बनाते हैं। यह बैक्टीरिया, धूल और Pollen Grains से 50 % ही बचाव करता है। इसे एक बार इस्तेमाल करने के बाद Dispose करना बेहद जरूरी है।

स्पंज मास्क

यह मास्क वायरस से बिल्कुल नहीं बचाता। बैक्टीरिया और धूल से सिर्फ 5% ही बचाव करता है। Experts भी इसे लगाने की सलाह नहीं देते।

मास्क कब पहनना चाहिए

  1. जब आपमें संक्रमण के लक्षण दिखें, जैसे खांसी, बुखार, सांस लेने में तकलीफ।
  2. जब कोरोना से पीड़ित मरीजों की देखभाल कर रहे हो।
  3. जब आप एक Health Worker है और मरीजों की देखभाल कर रहे हैं।

मास्क पहनते समय क्या क्या ध्यान रखें

  1. मास्क को हमेशा नीचे की तरफ से खोलें।
  2. मास्क गीला होने पर या 6 घंटे में इसे बदलें।
  3. मास्क अपनी नाक, मुंह और ठोड़ी के ऊपर लगाएं. ध्यान रखें गैप ना हो और ठीक से फिट हो।
  4. Disposable मास्क का दोबारा प्रयोग ना करें। प्रयोग हो चुके मास्क को Disinfect करके बंद कूड़ेदान में डालें।
  5. मास्क का प्रयोग करते समय या उतारते समय गंदी बाहरी सतह को ना छुएं।
  6. मास्क को गर्दन पर लटकता हुआ ना छोड़ें।
  7. मास्क हटाने के बाद हाथों को साबुन या अल्कोहल आधारित Hand Rub से धोएं।

और पढ़ेCORONA VIRUS (COVID-19) से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण तथ्य : जरूर पढ़े

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो इसे लोगों को शेयर करें। क्योंकि ज्ञान बांटने से बढ़ता है और हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब भी कर ले जिससे आपको हमारे नए पोस्ट की Notification सबसे पहले मिले और कोई भी पोस्ट Miss ना हो। अगर आपके मन में कोई प्रश्न उठ रहा हो तो हमे कमेंट बॉक्स में बताये। हम आपके प्रश्नो का उत्तर अवश्य देंगे। धन्यवाद !!

About the author

Fuggy Pandey

Fuggy Pandey

I am a content writer who specialized in writing about Facts, Technology, Life Hacks, Biography and Trending content. I'm working with a great team and have enjoyed the opportunities they have given me to help their knowledge grow.

View all posts

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *