Prebiotic and Probiotic Capsules Uses in Hindi – उपयोग, खुराक, दुस्प्रभाव, फायदे (2022)

क्या आप सभी को Prebiotic and Probiotic Capsules Uses in Hindi से जुड़ी हर महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करनी है, यदि हां तो आपको हमारे आज के लेख को अंत तक बने रहने की आवश्यकता होगी। क्योंकि आज के लेख में मैं आप सभी को Prebiotic and Probiotic Capsules के इस्तेमाल से जुड़ी हर महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने वाला हूं।

देखा जाए तो प्रोबायोटिक्स काफी लाभकारी बैक्टीरिया होते है, जो हमारे पंचम तंत्र को सुधारने और ठीक करने का कार्य करते है। यह एक ऐसा कैप्सूल है, जो हमारे पाचन शक्ति को बढ़ाने का कार्य करता है, जिससे खाना जल्दी पचता है। इसके साथ ही आपको बता दूं कि आप इस Prebiotics को हजम नही कर सकते है। तो चलिए अब बिना समय गंवाए जान लेते हैं कि आखिर यह Prebiotic and Probiotic Capsules है क्या?

Prebiotic and Probiotic Capsules Uses in Hindi
Prebiotic and Probiotic Capsules review in Hindi
Contents show

Prebiotic और प्रोबायोटिक कैप्सूल क्या है | Prebiotic and Probiotic Capsules in Hindi

प्रीबायोटिक एंड प्रोबायोटिक कैप्सूल एक ऐसा औषधीय गुणों से भरपूर कैप्सूल है, जो कई सारी समस्याओं में लाभकारी सिद्ध हो सकता है। मुख्य रूप से देखा जाए तो यह कैप्सूल खास कर आंत से जुड़ी समस्याओं को ठीक करके में फायदेमंद साबित हो सकता है। हालांकि, प्रीबायोटिक एंड प्रोबायोटिक दोनों ने काफी अंतर है, लेकिन ये हमारे शरीर के लिए काफी अच्छा माना जाता है।

आंतों में बैक्टीरिया के विकास को बढ़ाने देने में यह काफी मददगार सिद्ध हो सकते हैं। तो क्या आप सभी को भी Prebiotic and Probiotic Capsules in Hindi से जुड़ी हर महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करनी है, यदि हां तो उसके लिए आपको हमारे आज के पोस्ट को पूरा पढ़ना होगा। क्योंकि पोस्ट को पूरा पढ़ने के बाद ही आप Prebiotic and Probiotic Capsules के बारे में अच्छी तरह से समझ सकते हैं।

Prebiotic और प्रोबायोटिक कैप्सूल कैसे काम करता है | How To Work Prebiotic and Probiotic Capsules in Hindi

क्या आप सभी जानते है कि प्रीबायोटिक एंड प्रोबायोटिक कैप्सूल कैसे कार्य करता है, यदि नहीं तो कोई बात नहीं आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि इसपर अभी तक काफी सारा रिसर्च किया गया है। परंतु, जानकारी के मुताबिक अभी तक यह सही सही पता नहीं चल पाया है कि आखिर यह कैप्सूल कैसे कार्य करता है।

सरल शब्दों में समझा जाए तो एक रिसर्च में यह जानकारी प्राप्त हुई है कि यह शरीर में बैक्टेरिया को बनाने में मददगार साबित होता है। यह कैप्सूल शरीर में बुरे बैक्टीरिया को मारने और अच्छे बैक्टीरिया को बढ़ावा देने का कार्य करता है। ताकि आपके शरीर में अच्छी बैक्टेरिया की पूर्ति हो सके।

Prebiotic और प्रोबायोटिक कैप्सूल का उपयोग | Prebiotic and Probiotic Capsules Uses in Hindi

क्या आप भी Prebiotic and Probiotic Capsules का उपयोग करना चाहते हैं, यदि हां तो क्या आप सभी को पता है कि इस Capsule का उपयोग क्यों किया जाता है, अगर आप नहीं जानते तो कोई बात नहीं आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि Prebiotic and Probiotic Capsules का उपयोग विभिन्न बीमारियों ने किया जाता है। जो कि इस प्रकार है.

  • जिन व्यक्तियों के आंतों में सूजन जैसी समस्या होती है, उन व्यक्तियों को Prebiotic and Probiotic Capsules का उपयोग करना चाहिए। क्योंकि यह एक ऐसा कैप्सूल है जो आंतों के सूजन को कम करने में मददगार साबित होता है।
  • यदि कोई व्यक्ति दस्त जैसी गंभीर समस्या से जूझ रहे हैं, तो उन्हें इस कैप्सूल का इस्तेमाल करना चाहिए।
  • इसके साथ ही Irritable Bowel Syndrome जैसे रोग से ग्रस्त है, तो उन्हें इस कैप्सूल का सेवन करना चाहिए।
  • अगर किसी व्यक्ति को हृदय संबधी कोई बीमारी है, तो वे Prebiotic and Probiotic Capsules का उपयोग कर सकते हैं।
  • बुरे बैक्टीरिया को मारने और अच्छे बैक्टीरिया को बढ़ावा देने के लिए इस कैप्सूल का इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • लेकिन किसी भी समस्या में इस कैप्सूल के उपयोग से पूर्व आपको डॉक्टर की सलाह लेनी जरूरी होती है।

Prebiotic और प्रोबायोटिक कैप्सूल के फायदे क्या है | Prebiotic and Probiotic Capsules Benefits in Hindi

जिन व्यक्तियों को प्रीबायोटिक एंड प्रोबायोटिक कैप्सूल का उपयोग करना है, उन व्यक्तियों के लिए इसके फायदे और नुकसान के बारे में जानना काफी महत्वपूर्ण होता है। क्योंकि इस कैप्सूल के फायदे और नुकसान के बारे में जान कर ही आपको इसका सेवन करना चाहिए। तो चलिए अब बिना देरी किए Prebiotic and Probiotic Capsules Benefits in Hindi के बारे में जान लेते हैं। जो कि इस प्रकार है.

  • आंत के सभी बुरी बैक्टीरिया को खत्म करने में यह कैप्सूल काफी फायदेमंद साबित होता है।
  • हृदय संबधी रोग में इस टेबलेट के फायदे होते है।
  • इसके साथ ही अगर किसी व्यक्ति के पाचन से जुड़ी कोई समस्या होती है तो इसमें भी इस कैप्सूल के फायदे होते है। आपको पाचन से जुड़ी समस्या को दूर करने में भी इसका इस्तेमाल करना चाहिए।
  • एक्जिमा की गंभीरता को कम करने में prebiotic and Probiotic Capsules काफी फायदेमंद साबित होता है।
  • पेट दर्द जैसी समस्या में इस Capsule के फायदे।
  • ऊपर दिए गए सभी समस्याओं को इस कैप्सूल के फायदे होते है।

Prebiotic और प्रोबायोटिक कैप्सूल के नुकसान क्या है | Prebiotic and Probiotic Capsules Side Effects in Hindi

दोस्तों, मैंने आपको अपने अभी तक के लेख में इस कैप्सूल के क्या क्या फायदे होंगे इसके बारे में तो जान ही चुके होंगे। लेकिन क्या आप सभी जानते है कि इस Prebiotic and Probiotic Capsules के नुकसान क्या क्या है, यदि नहीं तो कोई बात नही अब मैं आपको अपने आगे के लेख में इसके सभी Prebiotic and Probiotic Capsules Side Effects in Hindi के बारे में जानकारी साझा करने वाला हूं। जो कि इस प्रकार है.

  • अगर किसी व्यक्ति को कैप्सूल खाने के बाद सुजन जैसी समस्या होती है, तो यह इसके साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं।
  • इसके बाद अगर किसी व्यक्ति को गैस जैसी समस्या होती है, तो यह us कैप्सूल के साइड इफेक्ट्स के लक्षण हो सकते हैं।
  • यदि किसी व्यक्ति को कैप्सूल खाने के बाद खुजली जैसी गंभीर समस्या होती है, तो यह इसके साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं।
  • इसके अलावा अगर किसी व्यक्ति को इस कैप्सूल को खाने के बाद सांस लेने में दिक्कत होती है, तो यह इसके साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं।

यदि किसी व्यक्ति को इन साइड इफेक्ट्स के अलावा भी किसी तरह का कोई लक्षण दिखाई देता है, तो व्यक्ति को जल्द से जल्द अपने डॉक्टर से संपर्क करने की आवश्यकता होगी। क्योंकि डॉक्टर के संपर्क करने के बाद आप अपने समस्या से छुटकारा पा सकते है।

Prebiotic and Probiotic Capsules के कुछ महत्वपूर्ण  सावधानियां

आपने हमारे अभी तक के लेख में प्रीबायोटिक एंड प्रोबायोटिक कैप्सूल के फायदे और नुकसान के बारे में तो जान ही चुके होंगे, लेकिन क्या आप सभी को पता है कि प्रीबायोटिक एंड प्रोबायोटिक कैप्सूल के सेवन से पूर्व कुछ महत्वपूर्ण सावधानियां बरतें की भी आवश्यकता होती, यदि नहीं पता तो कोई बात नहीं चलिए अब मैं आप सभी को इसके सभी सावधानियों के बारे में बता देते है। जो कि इस प्रकार है.

  • क्या आप भी अन्य टेबलेट, विटामिन या फिर सप्लीमेंट का सेवन कर रहे है, तो आपको इस कैप्सूल का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह लेनी जरूरी होता है।
  • यदि आपको किसी भी प्रकार का कोई भी एलर्जी है तो इस बारे में आप डॉक्टर को जरूर बताएं।
  • कैप्सूल के पैकेट पर आपको इसपर लिखे गए सभी दिशा निर्देश को ध्यान से पढ़ने की आवश्यकता होगी।
  • ज्यादा मात्रा या कम मात्रा में आपको इस कैप्सूल का सेवन नहीं करना है। बल्कि आपको डॉक्टर के बताए गए सलाह पर ही कैप्सूल का सेवन करना है।
  • यदि कोई व्यक्ति डायबिटीज जैसी गंभीर बीमारी से ग्रस्त है, तो उन्हें डॉक्टर से सलाह लेनी जरूरी होगी।
  • इसके साथ ही गर्भवती महिलाओं को भी इसके कैप्सूल के सेवन से पूर्व डॉक्टर से सलाह लेना होगा।

Prebiotic और प्रोबायोटिक कैप्सूल की खुराक | Prebiotic And Probiotic Capsules Dosage In Hindi

क्या आप भी इस कैप्सूल का सेवन करना चाहते है, यदि हां तो आपको इसके खुराक के बारे में हर जानकारी प्राप्त होना जरूरी होता हैं। अगर आप भी प्रीबायोटिक एंड प्रोबायोटिक कैप्सूल के खुराक के बारे में हर जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो उसके लिए आपको हमारे लेख को अंत तक पढ़ने की आवश्यकता होगी। क्योंकि अब आगे के लेख में आप सभी को इसके खुराक से जुड़ी हर महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त होने वाली है। जो कि इस प्रकार है.

  • यदि आप भी प्रीबायोटिक एंड प्रोबायोटिक कैप्सूल का सेवन करना चाहते है, तो उसके लिए आप सभी को डॉक्टर से यह सवाल जरूर पूछना है कि आपके लिए किस ब्रांड की दवा बेहतर होगी।
  • यदि आप जिस कैप्सूल का सेवन कर रहे है और यदि आपकी एक टाइम की खुराक छूट जाती है, तो ऐसे में आप इस छूटी हुई खुराक का सेवन कर सकते हैं। लेकिन अगर छूटी हुई खुराक का समय अगले खुराक के समय के आस पास है तो ऐसे में आपको छूटे हुए खुराक को नहीं लेना चाहिए।
  • आपको इस टेबलेट का ओवरडोज नहीं लेना चाहिए। नहीं तो आपको सांस लेने में समस्या हो सकती है।
  • आपको हर दिन केवल एक ही कैप्सूल का सेवन करना चाहिए। लेकिन आप इससे अधिक सेवन करना चाहते हैं, तो आप डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं।
  • आपको इस कैप्सूल का सेवन हमेशा खाने के बाद ही लेने की आवश्यकता होगी।

Prebiotic और प्रोबायोटिक कैप्सूल में मौजूद सामग्रियां –

क्या आप सभी को पता है कि इस कैप्सूल में कुछ सामग्रियां पाई जाती है, यदि आपको नहीं पता तो कोई बात नहीं आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि अब मैं आप सभी को कुछ समाग्रियों के बारे में जानकारी देने जा रहा हूं, जो कि इस कैप्सूल में पाया जाता है। वो कुछ इस प्रकार है……

  • बिफीडोबैक्टीरियम लोंगम
  • लैक्टोबैसिलस एसिडोफिलस
  • बिफीडोबैक्टीरियम बिफिडम
  • फ्रुक्टोइलगोसैक्रिड्स
  • स्ट्रेप्टोकोकस थर्मोफाइल्स
  • सैक्रोमाइसेस बोलार्डी
  • लैक्टोबैसिलस

Prebiotic और प्रोबायोटिक कैप्सूल की कीमत | Prebiotic And Probiotic Capsules Price in hindi

क्या आप भी प्रीबायोटिक और प्रोबायोटिक कैप्सूल का उपयोग करना चाहते हैं, यदि हां तो उसके लिए लिए आपको इसकी कीमत के बारे के पता होना जरूरी होता है। वही यदि हम इसकी कीमत के बारे में बात करें, तो 10 कैप्शन की कीमत लगभग 51 रुपए हैं।

Prebiotic और प्रोबायोटिक कैप्सूल कहां से खरीदे ?

आप प्रीबायोटिक और प्रोबायोटिक कैप्सूल को अपने नजदीकी मेडिकल स्टोर से खरीद सकते हैं। साथ ही अगर आप इस कैप्सूल को घर बैठे प्राप्त करना चाहते हैं, तो इसके लिए आप चाहें तो घर बैठे मेडिकल एप के जरिए ऑनलाइन इस कैप्सूल को प्राप्त कर सकते हैं।

निष्कर्ष

आशा करता हूं कि आपको हमारा Prebiotic and Probiotic Capsules Uses in Hindi का यह पोस्ट पसंद आया होगा। क्योंकि आज के लेख में मैंने आपको प्रीबायोटिक और प्रोबायोटिक कैप्सूल के उपयोग से जुड़ी हर महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान किया है। उम्मीद करता हूं कि आप हमारे आज के इस पोस्ट से संतुष्ट होंगे।

अगर आपको हमारे आज के इस Prebiotic and Probiotic Capsules Uses in Hindi के पोस्ट को पढ़कर कोई भी सवाल पूछना हो, तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं। इसके साथ ही अगर आपको हमारे आज के इस पोस्ट से जुड़े कोई भी सवाल पूछना हो, तो कमेंट बॉक्स करके पूछ सकते हैं।

FAQ about Prebiotic And Probiotic Capsules in hindi

Q1. प्रीबायोटिक और प्रोबायोटिक कैप्सूल का उपयोग क्यों किया जाता है ?

दस्त और इर्रिटेबल बोवेल सिंड्रोम जैसे समस्या में आप कैप्सूल का सेवन किया जा सकता है।

Q2. एक दिन में मैं प्रीबायोटिक और प्रोबायोटिक कैप्सूल की कितना खुराक ले सकता हूं ?

आम तौर पर देखा जाए तो एक दिन में प्रीबायोटिक और प्रोबायोटिक कैप्सूल की एक खुराक ली जा सकती है। इसके साथ ही आप डॉक्टर की सलाह पर खुराक बढ़ा भी सकते हैं।

Q3. प्रीबायोटिक और प्रोबायोटिक कैप्सूल की साइड इफेक्ट्स क्या क्या है ?

यदि हम प्रीबायोटिक और प्रोबायोटिक कैप्सूल की साइड इफेक्ट्स के बारे में चर्चा करें, तो सीजन, खुजली, सांस फूलना, गैस इत्यादि जैसी समस्या इस कैप्सूल के साइड इफेक्ट्स है।

Q4. क्या प्रीबायोटिक्स में बैक्टीरिया मौजूद है ?

जी नहीं, प्रीबायोटिक्स में बैक्टीरिया मौजूद नहीं होती है।

Q5. बैक्टीरिया से कौन कौन से रोग होते है ?

बैक्टीरिया से टीबी, कॉलेरा और निमोनिया जैसी समस्या उत्पन्न होती है।

Read More:

  1. Trypsin Chymotrypsin Tablet In Hindi – उपयोग, खुराक, दुस्प्रभाव, फायदे
  2. Aceclofenac Paracetamol Tablet In Hindi – उपयोग, साइड इफेक्ट्स
  3. Aciloc 150 Tablet In Hindi की जानकारी, फायदे, नुकसान, उपयोग
  4. Allegra M Tablet In Hindi : उपयोग, फायदे, साइड इफ़ेक्ट, कीमत 

Disclaimer –  हमने इस पोस्ट में जो कुछ भी लिखा है, वह आपको इस दवा से जुड़ी  जानकारी देने के लिए लिखा है। यह पोस्ट डॉक्टर के द्वारा नही लिखी गयी है, तथा हम यह दवा बिना डॉक्टर से पूछे खाने की सलाह नही देते हैं। दवा का सेवन करने से पहले एक बार डॉक्टर से  जरूर सलाह ले |

Share on:
you may also like this!

मैं Sandeep इस MyHindigyan ब्लॉग पर Tablet , Cream, Health Tips & Tricks से सम्बंधित पोस्ट Share करता हु। हमारा काम पसंद आये तो ब्लॉग को सब्सक्राइब और पोस्ट को शेयर जरूर करे।

Leave a Comment