school bus1
Image Source : Photo by Denisse Leon on Unsplash

स्कूल बस का रंग पीला क्यों होता है? – School Bus

केवल India में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी स्कूल बसो (School Bus) का रंग पीला होता है। यह एक ऐसा प्रश्न है जिसके बारे में हर कोई जानना चाहता है। तो आइए जानते हैं कुछ बातें बस (School Bus) के पीले रंग  के बारे में।

स्कूल की बसों (School Bus) का रंग पीला ही क्यों होता है ? 

क्या आपने कभी ध्यान दिया है कि स्कूल बस को पीले रंग का पेंट क्यों किया जाता है, क्या इसके पीछे कोई Scientific कारण है।

आपने ध्यान दिया होगा कि हर स्कूल बस पर अपने स्कूल का नाम होता है और ये बस पीले रंग की पेंट होती हैं। रंगों का अपना ही एक महत्व है। अगर हम देखें तो ट्रैफिक लाइट में अलग-अलग रंगों की लाइट लगाई गई हैं जिसकी मदद से ट्रैफिक को Control किया जाता है। उसी प्रकार से स्कूल बस को भी एक रंग दिया गया है और वो है पीला।

यह भी पढ़ेपथरी का घरेलू इलाज

पीला रंग ही क्यों दिया गया?

  • ये हम सब जानते हैं कि सफेद लाइट के Various Components के बीच लाल रंग में है Highest  Wavelength लगभग 650 nm होती है और इसलिए आसानी से ये Scattered नहीं होती हैं और दूर से भी स्पष्ट रूप से दिखाई देती है। चूंकि लाल रंग आमतौर पर सावधानी के साथ जुड़ा हुआ है, इसलिए यह स्कूल बस को पेंट करने के लिए Best Option नहीं होगा।
  • इसके लिए आप खुद एक Experiment कर सकते हैं। आप एक साथ 10 रंगों को रख लीजिए और फिर देखिए आपको सबसे पहले कौन सा रंग दिखा तो सबसे पहले आपको पिला रंग दिखेगा। 

अब सवाल यह उठता है कि फिर स्कूल बसों को लाल पेंट करने के बजाय पीले रंग का क्यों किया गया?

  • पीला रंग अलग दिखता है। स्कूल बस को पीले रंग का इसलिए पेंट किया गया क्योंकि पीला रंग हमें जल्दी Attract  करता है।
  • यह देखा गया है कि आमतौर पर हमारे Daily Life  में जब अनेक रंगों के बीच हम आते हैं तो पीला रंग आंखों में सबसे अधिक दिखाई देने वाला रंग होता है। 
  • स्कूल बस के इस रंग को National School Bus Chrome Yellow भी कहते है।

यह भी पढ़ेअपने शौक (HOBBY) का चयन कैसे करे ?

स्कूल बस (School Bus) को पीला पेंट करने के पीछे Scientific Reason

  • पीला रंग एक ऐसा रंग है जिसे हम आसानी से बहुत दूर से देख सकते है। बारिश, कोहरा और ओस में भी हम इस रंग को आसानी से देख पाते है।
  • इतना ही नहीं यदि हम बहुत सारे रंगों को एक साथ देखें तो पीला रंग सबसे पहले हमारा ध्यान आकर्षित करता है।
  • Scientists के अनुसार पीले रंग का Lateral Peripheral Vision लाल रंग की तुलना में 1.24 गुना High होता है। इसका मतलब है कि बाकी रंगों के Comparison में पीले रंग में 1.24 गुना ज्यादा Attraction होता है और अन्य किसी भी रंग की तुलना में ये आंखों को जल्दी दिखाई देता है।
  • भले ही आप सीधा ना देख रहे हो तब भी आप आसानी से पीले रंग को देख पाते है।
  • इसलिए स्कूल बस को पीले रंग से पेंट किया जाता है ताकि Highway पर एक्सीडेंट की संभावना ना के बराबर हो ताकि बच्चे Safety से अपने घर पहुंच सके।  
  • सबसे पहले अमेरिका में 1930 में इस बात की पुष्टि हुई थी कि अन्य रंगों की तुलना में पीले रंग में ज्यादा Attraction होता है। यहां तक कि कुछ Token Board को भी तो पीले रंग से पेंट किया जाता है।

High Court की स्कूलों को लेकर गाइडलाइन्स

High Court ने 2012 में स्कूलों (School Bus) में बदलाव के लिए कुछ गाइड लाइन्स जारी की थी जो इस प्रकार हैं:

  • स्कूल की बसों पर स्कूल का नाम होना चाहिए।
  • प्रधानाचार्य का मोबाइल नंबर अंकित होना चाहिए।
  • First Aid की सुविधा भी बसों में उपलब्ध होनी चाहिए।
  • बसों में Speed Governor होना चाहिए ताकि बसों की Speed का निर्धारण  किया जा सके।
  • स्कूल बस के ड्राईवर का Verification होना चाहिए।

अगर आपको लगे कि कोई स्कूल  इस बात का  पालन नहीं कर रहा है तो आप इस बात की शिकायत भी कर सकते हैं।

और पढ़ेनाक में घी डालने के अचूक फायदे

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो इसे लोगों को शेयर करें। क्योंकि ज्ञान बांटने से बढ़ता है और हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब भी कर ले जिससे आपको हमारे नए पोस्ट की Notification सबसे पहले मिले और कोई भी पोस्ट Miss ना हो। अगर आपके मन में कोई प्रश्न उठ रहा हो तो हमे कमेंट बॉक्स में बताये। हम आपके प्रश्नो का उत्तर अवश्य देंगे। धन्यवाद !!

About the author

Fuggy Pandey

Fuggy Pandey

I am a content writer who specialized in writing about Facts, Technology, Life Hacks, Biography and Trending content. I'm working with a great team and have enjoyed the opportunities they have given me to help their knowledge grow.

View all posts

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *